अलसी (Flax Seed): आज के सुपर फूड, प्रयोग करने में क्या सावधानियां बरतें

अलसी (Flax Seed): अलसी का बीज जिसे अंग्रेजी में फ्लेक्स सीड के नाम से जाना जाता है, हम भारतीय लोगों के घरों में दादी नानी या यूं कहें कि उनसे भी काफी पहले समय से हम इसे अपने खान-पान में शामिल करते आ रहे हैं।

अलसी (Flax Seed)

अलसी में इतनी ढेर सारी खूबियां है की इसे हमें अपने नियमित आहार का हिस्सा अवश्य बनाना चाहिए अलसी वेजीटेरियन खासकर वीगन लोगों के लिए अपने विशेष गुणों के कारण यह और अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है।

आज के इस आर्टिकल में हम अलसी के बीजों के फायदे, उपयोग, उनमें कौन-कौन से प्रमुख पोषक तत्व होते हैं, साथ ही उनका उपयोग करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और उसे अपने आहार का हिस्सा कैसे बना सकते हैं इन सभी के बारे में बिंदुवार जानने का प्रयास करेंगे।

अलसी (Flax Seed) के बीजों में पाए जाने वाले प्रमुख पोषक तत्व

क्र.सं.पाए जाने वाले पोषक तत्वमात्रा (प्रति100 ग्राम में)
1.कैलोरी534 कैलोरी
2.फैट42.16 ग्राम
3.कोलेस्ट्रॉल00 मिलीग्राम
4.कार्बोहाइड्रेट28.88 ग्राम
5.प्रोटीन18.29 ग्राम
6.सोडियम30 मिलीग्राम
7.पोटैशियम813 मिलीग्राम
8.कैल्शियम255 मिलीग्राम
9.आयरन5.73 मिलीग्राम
10.विटामिन सी0.6 मिलीग्राम
प्रति 100 ग्राम अलसी के बीच में विभिन्न पोषक तत्वों की मात्रा

अलसी (Flax Seed) के फायदे

  • अलसी का बीज वजन घटाने में मददगार सिद्ध होता है।
  • अलसी का बीज कोलेस्ट्रॉल काम करने में भी सहायक है।
  • अलसी का बीज कैंसर से लड़ने में मदद करता है।
  • अलसी का बीज ग्लूटेन फ्री होता है। जिनको ग्लूटेन से एलर्जी होती है उनके लिए यहअत्यंत फायदेमंद है।
  • अलसी के बीजों में उच्च मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होता है।
  • अलसी का बीज भोजन को पचाने में सहायक है।
  • अलसी के बीज में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाए जाते हैं जो की शाकाहारियों के लिए ओमेगा 3 प्राप्त करने का सबसे बड़ा स्रोत है।

अलसी (Flax Seed) के बीज का प्रयोग करते समय किन बातों का ध्यान रखें

  • अलसी के बीज को कभी भी कच्चा या साबुत नहीं खाना चाहिए क्योंकि इनमें कुछ टॉक्सिन होते हैं जो हमारे शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
  • जब भी अलसी के बीजों का इस्तेमाल करें तो ज्यादा से ज्यादा पानी पिए या फिर अलसी के बीजों को भिगोकर ही खाएं।
  • आहार विशेषज्ञों के अनुसार हमें रोज दो चम्मच से अधिक अलसी का सेवन नहीं करना चाहिए यह हमारे शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है।
  • अलसी के बीजों को तेज रोशनी और गर्मी से बचाकर रखना चाहिए।
  • अलसी के बीजों का भंडारण करते समय ध्यान रखें की इन्हें पीसकर अथवा साबुत ही किसी गहरे रंग के एयर टाइट कंटेनर में रखकर फ्रिज में रखना ज्यादा बेहतर रहता है।
अलसी (Flax Seed)

अलसी (Flax Seed) को कैसे बनाएं आहार का हिस्सा

  • अलसी के बीजों को थोड़ा भुन करके अपनी रोटी, पराठे या पूरी में भरकर या आटे में मिलाकर खाया जा सकता है।
  • अलसी के भुने बीजों को सलाद के ऊपर डालकर भी उपयोग किया जा सकता है।
  • सैंडविच की स्टफिंग सामग्री में भी अलसी के भुने बीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • दही के रायते और छाछ में भुने अलसी का पाउडर मिलाकर उपयोग किया जा सकता है।
  • एक चम्मच अलसी को थोड़े पानी में रात भर के लिए भिगोकर रख दे, सुबह उसमें नींबू का रस मिलाकर पीने से स्वास्थ्य अच्छा रहता है और ऐसा करने से वजन भी कंट्रोल में रहता है।
  • अलसी के बीजों को खीर में डाल करके भी खाया जा सकता है।
  • अलसी के बीजों का उपयोग चटनी के रूप में भी किया जा सकता है।

अलसी के बीजों में इतने सारे लाभकारी तत्व पाए जाते हैं कि इस सुपर फूड की संज्ञा देना अतिशयोक्ति नहीं होगी। यह बीज वर्तमान पीढ़ी के लिए और आने वाली पीढियों के लिए एक सुपर फूड बनकर उभरा है। यह बीज पोषक तत्वों का पावर हाउस है जो हमारे शरीर के विभिन्न हिस्सों के लिए अत्यधिक उपयोगी है। यह हमारे दिल से लेकर के हमारे त्वचा, फेफड़े, बालों आदि को लाभ प्रदान करता है, बस जरूरत है इन्हें नियमित अपने आहार का हिस्सा बनाने की।

यह भी पढ़ें:

5/5 - (2 votes)

Leave a Comment