Zerodha Update: जिरोधा ने एक करोड़ क्लाइन्ट्स का जादुई आंकड़ा छुआ

Zerodha also touched the magical customer figure of One Crore,Zerodha Update,Zerodha Latest News

भारत के अग्रणीय डिस्काउंट ब्रोकर Zerodha ने एक दशक से कुछ ही ज्यादा समय में एक करोड़ कस्टमर्स के जादुई आंकड़े को आज यानी दिनांक 26 अगस्त 2022 को प्राप्त कर लिया है.यह सूचना जिरोधा के फाउंडर और सीईओ नितिन कामथ जी ने अपने ट्विटर हैंडल से सार्वजनिक की है.

नितिन कामथ जी का कहना है की 1 करोड़ कस्टमर के आंकड़े तक पहुंचने के पीछे जो सबसे प्रमुख कारण है वो है,आधार द्वारा ऑनलाइन अकाउंट का खोला जाना,साथ ही वह कहते हैं की इसके लिए सरकार,सेबी,एक्सचेंज और डिपोजिटरीज का जितना भी धन्यवाद अदा करें वह कम ही है.

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए नितिन जी कहते हैं की हमारे वर्ल्ड-ऑफ-माउथ पर भरोसा करने और अपने सभी कस्टमर्स के लिए एक ही प्लान रखने की योजना ने हमें ऐसे लाभ पहुंचाए हैं जिसके बारे में हमने कभी सोचा ही नहीं था.हमारी टीम का आकार वैसा ही बना हुआ है;जिनके द्वारा हम 20 लाख से एक करोड़ क्लाइंट्स तक पहुंचे हैं.

नितिन कामथ अपने ट्वीट में आगे कहते हैं,जब वर्तमान कस्टमर्स द्वारा अपने परिवार या दोस्तों में जिरोधा को इंट्रोड्यूस किया जाता है तो वो उस जानकारी के गैप को भरने में मददगार होते हैं जो नए कस्टमर्स को जिरोधा प्लेटफॉर्म को यूज करने में आती है.ब्रोकिंग जैसे कठिन व्यवसाय में कंज्यूमर्स ऐप एक बहुत बड़ी चुनौती है.इसलिए हम अपने कस्टमर्स का भी जितना धन्यवाद अदा करें वह कम ही है.

नितिन कामथ जी कहते हैं की हमनें लागतों का खर्चा निकालने के लिए खाता खोलने पर एक शुल्क लेने की शुरुवात की.इस शुल्क को लेने का एक सेंस भी बनता है और लोगों में गंभीरता भी लाता है.ट्रेडिंग जोखिम भरा है,यह गेमिंग ऐप इंस्टॉल करने जैसा बिल्कुल भी नहीं है.शुल्क लेने से सीरियस कस्टमर्स ही अकाउंट ओपन करते है इससे निष्क्रिय खोतों के परिचालन की लागत कम होती है.

नितिन कामथ का कहना है की “दूसरों के साथ वह न करें जो आप नहीं चाहते हैं की आपके साथ किया जाए”,यह सभी बातों के मूल में है.हमारे द्वारा कभी भी स्पैम कॉल्स,ई-मेल या पुश नोटिफिकेशन खाता खोलने या ट्रेड्स को ट्रिगर होने पर नहीं किया गया.इससे हमें कस्टमर्स के बीच विश्वसनीयता हासिल करने में मदद मिली,जो कि ब्रोकिंग बिजनेस की सबसे बड़ी चुनौती है.

दोस्तों,जिरोधा द्वारा भारत में डिस्काउंट ब्रोकरेज को न सिर्फ आरंभ किया गया बल्कि अगर ये कहा जाए की जिरोधा ने स्टॉक ब्रोकिंग के क्षेत्र में वही क्रांति लाई है जो जियो ने दूरसंचार के क्षेत्र में तो इसमें कोई अतिश्योक्ती न होगी.जिरोधा ने स्टॉक मार्केट में निवेश को अपने सरल मोबाइल प्लेटफॉर्म द्वारा भारत के कोने-कोने में पहुचाँया है.

FAQ

Q.जिरोधा की स्थापना कब हुई थी?

ANS.15 अगस्त 2010

Q.जिरोधा में अकाउंट ओपनिंग शुल्क क्या है?

ANS. ट्रेडिंग और डिमैट अकाउंट के लिए 200/- रुपए. 

Q.जिरोधा का AMC चार्ज क्या है?

ANS.300/-रुपए प्लस जीएसटी.

 Read More :

Open Demat Account With :

Rate this post

1 thought on “Zerodha Update: जिरोधा ने एक करोड़ क्लाइन्ट्स का जादुई आंकड़ा छुआ”

Leave a Comment